कुछ और विश्वनाथ, और आप मानो तर गये!


एक ब्लॉगर का स्वप्न हैं विश्वनाथ जी जैसे पाठक। आप आधा दर्जन गोपालकृष्ण विश्वनाथ को पसन्द आ जायें तो आपकी जिन्दगी बन गयी! हम उनकी राह में ताकते हैं जो प्योर पाठक हैं। प्रबुद्ध पाठक। वे आपके लेखन का मानदण्ड भी स्थापित करते हैं। आप जबरी अण्ट-शण्ट नहीं ठेल सकते। आप टिम्बकटू के उलूलुलू नामकContinue reading “कुछ और विश्वनाथ, और आप मानो तर गये!”

अहिन्दी भाषी श्री जी. विश्वनाथ का परिचय और अतिथि पोस्ट


श्री जी विश्वनाथ ब्लॉगिंग की सामाजिक ताकत का पूरे ब्लॉस्ट पर अन्दाज मुझे शनिवार को हुआ। और क्या गज़ब का अन्दाज था! शनिवार की पोस्ट में मैने श्री जी विश्वनाथ, जे पी नगर, बेंगळूरु को धन्यवादात्मक फुटनोट लिखा था – उनकी टिप्पणियों से प्रभावित हो कर। उसमें यह लिखा था कि जब वे ४ सालContinue reading “अहिन्दी भाषी श्री जी. विश्वनाथ का परिचय और अतिथि पोस्ट”

iGoogle से ब्लॉगस्पॉट में पोस्टिंग का गैजेट


मैं मानसिक हलचल में नीचे आने वाले Daily Essential Thoughts के लिये या तो पुस्तकों से कोटेशन टाइप करता हूं या नेट पर से कॉपी-पेस्ट। Daily Essential Thoughts मेरा ब्लॉग है जो नीचे वाली विजेट को फीड प्रदान करता है।यह कोटेशन पोस्ट करने का एक सरल तरीका कल मुझे मिला। ब्लॉगर-इन-ड्राफ्ट ने iGoogle के लियेContinue reading “iGoogle से ब्लॉगस्पॉट में पोस्टिंग का गैजेट”