नया फेज – यू ट्यूब विश्वविद्यालय का विद्यार्थी

मैंने ह्वाट्सएप्प विश्वविद्यालय से डेढ़ दो साल पहले नाम कटा लिया था। या यूं कहूं कि नाम तो नहीं कटाया, पर कक्षायें अटेण्ड करना छोड़ दिया था। मेरे पास यू ट्यूब की भी प्रीमियम मैम्बरशिप थी। पर हर महीने उनके द्वारा पैसा काटना खलने लगा तो वह भी बंद कर दिया था। फिर देखना भी बंद कर दिया। कालांतर में प्रेमसागर कांवरिया के फेर में बहुत टाइम खोटा होने लगा। सिवाय प्रेमसागर ट्रेवल-ब्लॉग लेखन के बाकी सब कुछ होल्ड पर चला गया।

अब प्रेमसागर को नागेश्वर तीर्थ के बाद विराम दे दिया है, तो बाकी सब की ओर ध्यान जा रहा है। मेरी पत्नीजी प्रसन्न हैं – उन्हें लगता है कि मैं दीन दुनियाँ से बेखबर हो गया था। घर के कामकाज में भी ध्यान नहीं दे रहा था। अब वापसी हो गयी है।

और तो और मैंने सोनी वालों का “पुण्यश्लोक अहिल्याबाई” वाला सीरियल भी देखना प्रारम्भ कर दिया। टीवी सीरियल देखना मैं दशकोंं पहले छोड़ चुका था। अब पुनर्मूषको भव की दशा हुई है। मुझे जैसा भी लगे, मेरी पत्नीजी खुश हैं मेरे पुन: मूषक बनने पर!

Photo by Pixabay on Pexels.com

यह अहिल्याबाई वाला सीरियल देखने के लिये यू ट्यूब और फिर ओटीटी प्लेटफार्म्स भी खंगाले। यू ट्यूब की प्रीमियम मैम्बरशिप वापस लौट आयी। और यू ट्यूब तरह तरह के वीडियो ठेलने लगा। मैंने देखा कि ह्वाट्सएप्प विश्वविद्यालय की टक्कर में एक यू ट्यूब विश्वविद्यालय भी कम नहीं है। बहुत ज्ञान ठेलता है!

कल यूट्यूब पर नरसिम्हा पीवीआर राव जी से मुलाकात हुई, इंफिनिटी फाउण्डेशन के एक वीडियो पर। वे आईआईटी के उत्पाद हैं और वैदिक ज्योतिषी हैं। अग्नि उपासक हैं। पर्सनालिटी में नये पुराने का जबरदस्त घालमेल है। यूट्यूब विश्वविद्यालय के लिये एक जानदार शानदारश्च विभूति! उनके ट्विटर प्रोफाइल में परिचय है – IITian, engineering manager in US, Vedic astrologer (researcher, author, teacher and maker of a popular free software), Sanskrit scholar, philosopher, Fire Yogi.

नरसिम्हा पीवीआर राव जी ने एक वीडियो में अपने प्रेडिक्शन दिये

उन्होने वीडियो में अपने प्रेडिक्शन दिये –

  • मोदी जी 2024 का चुनाव भी जीतेंगे। मजे से। उसके बाद 2026 तक गद्दी योगी आदित्यनाथ को थमा कर कर्मसन्यास-वैराज्ञ टाइप लेंगे।
  • योगी आदित्यनाथ का राजयोग प्रबल है। अगले डेढ़ दशक – 2036 तक विश्व के लिये उथल पुथल वाले हैं। उसमें वे भारत को वह ऊंचाई दिलायेंगे जो अमेरिका ने द्वितीय विश्व युद्ध के बाद पाई थी। उनका स्थान वैसा ही होगा जैसा रुजोवेल्ट का था।
  • चीन ज्यादा फुदकेगा। द्वितीय विश्व युद्ध के समय जैसा जर्मनी का था। पर अंतत: उसके (कम से कम) पांच टुकड़े होंगे।
  • इसी दशक में अमेरिका और ईरान के बीच भीषण युद्ध होगा। … और भी बहुत कुछ!
नरसिम्हा पीवीआर राव जी का ट्विटर हेडर।

इस प्रकार के ज्योतिषीय आकलन, एक आईआईटी वाले से, जो अमरीका में रह रहा है। … सब कुछ ग्लेमराइज करता है। सारे ज्योतिषीगण चमत्कृत करते हैं। मेरे पत्नीजी के ऑफीशियल ज्योतिषी लल्लू मामा (कमलेश कुमार त्रिपाठी जी) भी वैसे ही चमत्कृत करते हैं। वे कट्टर कांग्रेसी हैं और उनके सारे आकलन राहुल राजीव गांधी को अगले दशक का नायक बताते हैं। पर लल्लू मामा का यूट्यूब विश्वविद्यालय में कोई पद नहीं है। सो उनके भक्त हम आसपास के लोगों तक ही हैं। … उन्हें भी यूट्यूब पर अपना ठीया बनाना चाहिये।

गूगल सर्च, यूट्यूब, ह्वाट्सएप्प और ओटीटी – सब मिला कर रिटायर आदमी के लिये समय बहुत क्रीयेटिव तरीके से नष्ट करने के साधन हैं। मैंने यूट्यूब को बतौर विद्यार्थी पुन: ज्वाइन किया है। बहुत से लोगों का सुझाव है कि मुझे भी वहां अपना एक ठीया, एक चैनल बना लेना चाहिये। क्या पता, मैं भी अंतत: वहां विजिटिंग या नियमित फेकल्टी बन सकूं। फिलहाल सीखना है कि सुपरलेटिव्स में, अतिरेक में और सेनशेसनल तरीके से कुछ कैसे कहा-परोसा जाये।


Published by Gyan Dutt Pandey

Exploring village life. Past - managed train operations of IRlys in various senior posts. Spent idle time at River Ganges. Now reverse migrated to a village Vikrampur (Katka), Bhadohi, UP. Blog: https://gyandutt.com/ Facebook, Instagram and Twitter IDs: gyandutt Facebook Page: gyanfb

11 thoughts on “नया फेज – यू ट्यूब विश्वविद्यालय का विद्यार्थी

  1. कई साल पहले हमने ज्योतिषविद्या पढ़ने की कोशिश की थी। उस वक़्त इन्ही राव साहब का सॉफ्टवेयर हमने खोज निकाला था। It’s a good piece of software. बाक़ी, उनके predictions पर हमारी टिप्पणी वही है जो आपकी है 🙂

    Liked by 1 person

    1. डिजिटल यात्रा का भी आनंद है! मन होता है एक नया यात्री तलाशा जाए, जो विचारों में अपने से बहुत अलग न हो!

      Like

  2. चैनल बना कर अनायास ही लिखने की बाध्यता आन खड़ी होगी। जीवन के इस पहर में स्वच्छंद प्रकृति अपनाएं। बहुत कर लिया। अब स्वान्तः सुखाय ही लिखें। क्या प्रेमसागर प्रकरण में आपने कभी लिखने की इच्छा नहीं होने पर भी नहीं लिखा? यदि ऐसा नहीं है तो बेशक चैनल बना लें।

    Liked by 1 person

    1. मनमौजी प्रवृत्ति तो छोड़ी नहीं जा सकती…. अभी तो ऐसा ही लगता है।

      Like

  3. दिनेश कुमार शुक्ल जी फेसबुक पेज पर –
    भाई Gyan Dutt Pandey ji भगवान भोलेनाथ से प्रार्थना है कि ज्योतिर्लिंग पदयात्रा का वृत्तांत इस ब्लाग पुनः आविर्भूत हो? हर हर महादेव।

    Like

  4. Like

  5. नरसिंह्म अच्‍छे स्‍कॉलर हैं, लेकिन अच्‍छे ज्‍योतिषी नहीं है। जगन्‍नाथ होरा करके एक सॉफ्टवेयर बनाया है। वह भी बड़ा काम है, हालांकि यूजर के स्‍तर पर देखा जाए तो सॉफ्टवेयर औसत स्‍तर का है। जहां तक फलादेशों की बात है, उन्‍हें सीरियस लेना ठीक नहीं। ये हवन करते का फोटो पिछली बार भी मैंने सर्दियों में देखा था, इस बार भी सर्दियों के चरम में देख रहा हूं। अब मुझे शाम को धूणी जलानी पड़ेगी…

    अगर कुछ ढंग का देखना है तो मेरा चैनल देखिए, यूट्यूब पर Astrologer Sidharth सर्च करने पर मिल जाएगा।

    Liked by 1 person

Leave a Reply to Gyan Dutt Pandey Cancel reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: